शुक्रवार, 2 अप्रैल 2010

नोबेल पुरस्कारों में एक भारतीय भी

वर्ष २००९ का नोबल पुरस्कारों में चिकित्सा विज्ञान में एलिजाबेथ ब्लैक बर्न केरोल डब्लू ग्रेइदर जैक सोज टेक को सयुक्त रूप से दिया गया है इन्होने टेलोमीयर्स और उनका निर्माण करने वाले करने वाले एंजाइम टेलिमीरेज से कोशिका विभाजन के बाद टेलिमेअर्स को ह्रासीत होने से बचाने के लिए पहचानने के लिए शोध कार्य द्वारा सिध्य किया है कोसीकाओ में टेलोमेयार्स के कमजोर होने से उनकी विभाजन छमता कम हो जाती है तथा कोसिकाओ में विभाजन देर से होता है इसलिए शरीर वृद्ध हो जाता है एलिजावेथ व जैक सोज टेक ने खोज की टेलोमीयर्स में डी एन ऐ का अनोखा क्रम क्रोमोसोम को ह्रासीत होने से रोकता है कैरोल ग्रेडर व ब्लैक बर्न ने टेलोमियार्स डी एन ए का निर्मान करने वाले टेलिमिरेज एन्जाइम की पहचान की इन खोजों के द्वारा पता चला की किस तरह से क्रोमोजोम के आख़िरी सिरों की सुरछा टेलोमियार्स द्वारा की जाती है इन शोधों से कैंसर एप्लास्तीक अनीमिया बुढ़ापा त्वचा फेफड़े सम्बंदित रोगों को रोकने में लाभकारी है भारतीय मूल के अमेरिकी वैज्ञानिक वेंकट रमण राम कृष्णन सहित तीन वैज्ञानिको को जिसमे थामस ए स्तेत्ज तथा इजराईल के वैज्ञानिक अदा ई यो नाथ को दिया गया इन तीनो ने राइबोसोम के बारे में कई उपयोगी जान कारिया इकठी की जिनकी मदद से कई बीमारियों से बचाव के लिए एन्टीक बयोटीक बनाने में मदद मिलेगी इन्होने एक्सरे क्रिस्तोलोग्रफी तकनीक से उन लाखों परमाणुओं के आपस में जुड़ने की स्थिती का अध्यन किया जो हमारे शरीर की कोसिकायों में प्रोटीन का निर्मान करने वाले प्रोटीन निर्मान करने वाले राइबोसोम का निर्मान करते है सभी जीवो की प्रतेक कोशिका में डी एन ए अनु होते है डी एन ए अणुओं में ही वो ब्लू प्रिंट होता है जिसमे यह सूचना रहती है कोई जीव वनस्पती कैसा दिखेगा किस तरह कार्य करेगा लेकीन डी एन ए अनु निष्क्रिय होता है लेकीन रैबोसोम द्वारा पहुचाई गयी सूचना और किये गए कार्य के बाद डी एन ए अनु का ब्लू प्रिंट कार्य करने लगता है और सरीर कोसिकायों की अवसकतानुसार प्रोटीन तैयार करने लगता है जो सरीर का निर्मान करती है चाल्स केवो जरगे स्मिथ बिलियर्ड बायल को भौतिकी का नोबल पुरस्कार डिजिटल फोटोग्राफी में इस्तमाल की जाने वाली प्रौदोगीकी के निर्मान और दुनिया को फाइबर आप्टीकल से जोड़ने तथा चाच्र्द कपल्श दिवाएश (सी सी दी ) की खोज के लिए दिया गया इसकी मदद से डाटा को प्रकास के रूप में भेजने मदद हुई इससे डिजिटल फोटोग्राफी का रास्ता खुला सरजरी के लिए मानव सरीर के भीतर की तस्वीर लेना संभव हो शांती का नोबल अमेरिकी रास्त्रपती बराक ओबामा को दिया गया साहित्य का हेरत मूलर को तथा अर्थसास्त्र का इलिनार ओसत्रम तथा ओबियार विलियाम्श को दिया गया है

13 टिप्‍पणियां:

  1. सुन्दर और ज्ञानवर्धक लेख----।

    उत्तर देंहटाएं
  2. आईये जानें .... मैं कौन हूं!

    आचार्य जी

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर और ज्ञानवर्धक लेख। प्रशंसनीय ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. अच्छी जानकारी मिली..आभार.
    _________________________
    अब ''बाल-दुनिया'' पर भी बच्चों की बातें, बच्चों के बनाये चित्र और रचनाएँ, उनके ब्लॉगों की बातें , बाल-मन को सहेजती बड़ों की रचनाएँ और भी बहुत कुछ....आपकी भी रचनाओं का स्वागत है.

    उत्तर देंहटाएं